बीपी 20 अरब डॉलर मुआवजा देने को राजी

Ravivir

Elite


वाशिंगटन। ब्रिटिश पेट्रोलियम [बीपी] मैक्सिको की खाड़ी में तेल के रिसाव से हुए नुकसान की भरपाई करने के लिए 20 अरब डॉलर का मुआवजा देने पर सहमत हो गई है। कंपनी के इस कदम का अमेरिकी सांसदों ने स्वागत किया है।
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बुधवार को घोषणा की थी कि अमेरिका और बीपी के बीच एक समझौता हुआ है, जिसके तहत बीपी तेल के रिसाव पर 20 अरब डॉलर का मुआवजा देने के लिए तैयार हुई है। साथ ही उन्होंने कहा था कि आपदा के लिए बीपी की जिम्मेदारी आगे भी बनी रहेगी।
ओबामा ने कहा था कि मौजूदा संघीय कानूनों के मुताबिक, ऐसे रिसाव से उपजी आपदा के कारण तेल कंपनियों पर सात करोड़ 50 लाख डॉलर तक का अधिकतम जुर्माना लगाया जा सकता है, लेकिन अभी की स्थितियों में निश्चित तौर पर यह राशि पर्याप्त नहीं होगी।
राष्ट्रपति ने कहा था कि मुझे यह घोषणा करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि बीपी इस रिसाव से हुए नुकसान की भरपाई के तौर पर 20 अरब डॉलर देने के लिए तैयार हो गई है। बीपी अधिकारियों के साथ बैठक के बाद ओबामा ने कहा कि 20 अरब डॉलर से तेल रिसाव से प्रभावित लोगों और व्यापार करने वालों को पर्याप्त राहत दी जा सकेगी।
राष्ट्रपति ने कहा कि मैं इस बात पर भी जोर देना चाहूंगा कि यह अधिकतम सीमा नहीं है। खाड़ी के लोगों से मेरी प्रतिबद्धता है कि बीपी अपने दायित्वों को आगे भी निभाएगी। अमेरिकी सांसदों ने इस कदम का स्वागत करते हुए कहा कि बीपी इससे बहुत ज्यादा भी कर सकती है। डेमोक्रेटिक हाउस स्पीकर नैंसी पैलोसी ने कहा कि अगर यह राशि 20 अरब डॉलर से भी ज्यादा होती है, तो भी बीपी को प्रभावित परिवारों, मजदूरों और छोटे व्यापारियों को पूरी राशि देनी होगी। 20 अरब डॉलर के इस कोष पर न तो बीपी का और न ही अमेरिकी सरकार का नियंत्रण होगा। पूरी राशि एक निष्पक्ष और स्वतंत्र तीसरे पक्ष के स्वामित्व में रहेगी।
ओबामा ने कहा कि इसके अलावा बीपी स्वच्छता से 10 करोड़ डॉलर का एक कोष बनाने पर सहमत हुई है, जो गहरे कुओं के बंद होने से प्रभावित मजदूरों को मुआवजा देने के लिए होगा। बीपी को आगे भी जिम्मेदार ठहराते हुए उन्होंने कहा कि बीपी एक मजबूत कंपनी है और यह ऐसी ही बनी रहेगी। यह उसकी जवाबदेही के बारे में भी है।


 
Top