मुहब्बत का शिकार

~Guri_Gholia~

ਤੂੰ ਟੋਲਣ
जो आसेब_ज़दा (evil_spirit)मुहब्बत का शिकार होते हैं
jo asseb_zadaa muhabat kaa shikaar hotae hain
दिखने में ठीक लगें,लेकिन बीमार होते हैं
dhiknae main theek lagain, lakin beemar hotae hain
रहना पड़ता है उनको, ज़हीन बन कर के
rehna padta hai ukno, zaheen ban kar kae
लगते दना (intelligent)हैं, लेकिन बेकार होते हैं १
lagtae dana hain, lakin bekaar hotae hain

दीमाग अपना, ग़ैरों की सोच से तारी (mesmerized)
deemag apna, gheron kee soch main taari
दिल अपना, मगर धड़कन पे नहीं इख्तेयारी
dil apna, magar dharkan pae nahin iktayari
लगते कामिल(complete)हैं, मगर टूटे हुए होते हैं १
lagtae kaamil hain, magar tutae huae hotae hain
जो आसेब_ज़दा (evil_spirit)मुहब्बत का शिकार होते हैं
jo asseb_zadaa muhabat kaa shikaar hotae hain

इनकी बातें, आम ज़ुबां नहीं होती
inki baatain, aam zuban nahin hoti
अगर होती हैं तो फिर साफ़_ ओ_ सरीह (intelligible) नहीं होती
agar hoti hain to fir saaf_o_sarih nahin hoti
शायर कहते हैं उनको लोग, इनके मुख्तलिफ से ब्यान (recital)होते हैं
shayer kehtae hain unko log, inkae mukhtalif sae byaan hotae hain
जो आसेब_ज़दा (evil_spirit)मुहब्बत का शिकार होते हैं
jo asseb_zadaa muhabat kaa shikaar hotae hain

हर्ष
Harsh
 
Top