सजा से बचे भज्जाी और गंभीर

Ravivir

Elite
दांबुला। पाकिस्तानी खिलाड़ियों के साथ मैदान पर उलझने वाले हरभजन सिंह और गौतम गंभीर सजा से बच गए जब मैच रेफरी एंडी पायक्राफ्ट ने इस मामले को हलके में टाल दिया।
हरभजन की शोएब अख्तर से झड़प हो गई थी जबकि गंभीर पाकिस्तानी विकेटकीपर कामरान अकमल से उलझ गए थे। भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी को बीच बचाव करके मामला सुलझाना पड़ा। भारतीय टीम मैनेजर रंजीब बिस्वाल ने कहा, 'आईसीसी मैच रेफरी ने खिलाड़ियों से बात की लेकिन उन्हें सजा नहीं देने का फैसला किया। उनका मानना था कि क्षणिक आवेग में ऐसा हुआ।' पायक्राफ्ट ने खिलाड़ियों को मैदान पर अपने जज्बात काबू में रखने की सलाह दी।
हरभजन ने मैच में दो विकेट लिया और आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर छक्का लगाकर भारत को जीत दिलाई। विजयी रन बनाने के बाद हरभजन ने अपना हेलमेट निकाला और शोएब की तरफ मुड़े जिसने उन्हें बाहर जाने का इशारा किया। पाकिस्तानी कप्तान शाहिद अफरीदी ने कहा, 'वह एक दूसरे के दोस्त हैं और एक दूसरे से प्यार करते हैं।' मैच के बाद हरभजन और शोएब बात करते नजर आए। बाद में धौनी ने भी कहा कि चिर प्रतिद्वंद्वियों के मुकाबले में ऐसे तनाव के क्षण आते हैं। धौनी के मुताबिक, 'यदि आप मुझसे पूछे कि छींटाकशी होती है या नहीं तो मैं कहूंगा कि इस मसले को छोड़ दें। भारत-पाक मैचों में ऐसा होता है।'
 
Top