Punjab News पानी न रोका तो बांध बना देंगे

जालंधर. काला संघिया ड्रेन के प्रदूषित पानी से पीड़ित लोगों ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर इस पर रोक नहीं लगाई तो ड्रेन पर बांध बनाकर गंदे पानी को गांवोंकी तरफ आने से रोक दिया जाएगा। संत बलवीर सिंह सींचेवाल के नेतृत्व में सोमवार को गांव चमियारा में मीटिंग दौरान उक्त फैसला किया गया। संत सीचेवाल ने कहा कि इन इकाइयों के खिलाफ कार्रवाई के लिए जब वे अधिकारियों के पास जाते हैं, तो गंदे पानी से छुटकारे के लिए उन्हें नई तारीख दे दी जाती है। पिछले करीब अढ़ाई साल से यही काम चलता रहा है।

औद्योगिक इकाइयों के प्रदूषित पानी से निजात के लिए प्रशासन ने पहले 31 मार्च का समय दिया था। उसके बाद 30 अप्रैल दे दी और फिर 31 मई दे दी। इस समय में कोई कार्रवाई नहीं की। अब इस प्रदूषित पानी पर बांध बनाने के अलावा उनके पास और कोई विकल्प नहीं रह गया है।

संत सीचेवाल ने कहा कि काला संघिया ड्रेन में प्रदूषित पानी गिराने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। इस पानी के कारण बीमारियों से ग्रस्त हो चुके लोगों को उचित मुआवजा मिलना चाहिए। खेतीबाड़ी पर भी गंदे पानी का असर पड़ रहा है। उधर, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एक्सईएन हरबीर सिंह का कहना है कि लैदर कांप्लैक्स के उद्यमियों ने हाईकोर्ट में 30 जून तक ट्रीटमैंट प्लाट चालू करने का समय लिया है। इसके शुरू होने पर समस्या का काफी हद तक समाधान हो जाएगा।
 

Attachments

Top