लड़की है क्या, रे बाबा

चंडीगढ़. शहर में लड़कों के बाद अब एक लड़की ने चंडीगढ पुलिस से लेकर जेल प्रशासन तक को परेशान कर रखा है। सिम्मी नाम की यह लड़की पिछले तीन दिनों से हर जगह विवाद कर रही है। राह चलती लडकियों को दबोचकर उनकी पिटाई करती है। कपड़े फाड़कर उन्हें बेइज्जत करती है। इसके बाद जब पुलिस इस लड़की को पकड़ती है,तो यह लड़की पुलिस को भी गाली गलौच करती है।

पुलिस लड़की को एडीसी के समक्ष पेश करती है,तो यहां भी उसका उत्पात जारी रहता है और यह लड़की एडीसी को गाली निकालने में भी बिल्कुल संकोच नहीं करती। लड़की को जेल भेजा गया। तो यहां भी इस लड़की ने जेल के शीशे तक तोड़ डाले हैं। ऐसा नहीं है कि यह लड़की अनपढ़ है। यह लड़की इसी साल सेक्टर 26 के खालसा कॉलेज से ग्रेजुएशन कर चुकी है और गुरदासपुर के एक हाईफाई परिवार से संबंध रखती है। शहर में यह लड़की सेक्टर 16 में बतौर पीजी अकेली रह रही है।


दरअसल सबसे पहले सोमवार को गुरदासपुर निवासी सिम्मी ढिल्लो ने सेक्टर 35 मार्केट में युवती कमल की पिटाई की और उनका मोबाइल छीनना चाहा। इस दौरान कमल के गंभीर चोट पहुची। थाने में एसएचओ अनोख सिंह के ऑफिस में यह लड़की नाचने लगी। पुलिस ने यहां सिम्मी पर कोई कार्रवाई नहीं की और उसे वापस भेज दिया। इसके बाद सिम्मी ढिल्लों के हौसले बुलंद हुए।

मंगलवार शाम करीब छह बजे सिम्मी ढिल्लो ने सेक्टर 11 बरिस्ता रेस्तरां के बाहर खड़ी लडकी नेहा को पकड़ा। सिम्मी ने कहा कि नेहा उसे देखकर हंस रही है। इसके चलते उसने नेहा के थप्पड़ जड़ दिए।बीच मार्केट सिम्मी ने लिटाकर नेहा की पिटाई की। नेहा के कपड़े भी फट गए। मार्केट के दुकानदारों ने नेहा को बचाया और सिम्मी को पकड़कर थाना 11 पुलिस के हवाले किए।

पुलिस यहां से दोनों लड़कियों को पकड़कर थाने ले गई। थाने में पुलिस ने लड़कियों का यह कहकर समझौता करवा दिया कि सिम्मी कि मानसिक हालत ठीक नहीं है। सिम्मी थाने से गई और इसकी कुछ देर बाद ही सिम्मी ने सेक्टर 15 मार्केट में खड़ी लड़की ईशा की पिटाई कर दी। सिम्मी ने उसकी इस कदर पिटाई की कि ईशा के मुंह से खून निकलने लगा। पुलिस फिर मौके पर पहुंची, सिम्मी से मारपीट का कारण पूछा। तो उसका कहना था कि ईशा उसे घूर रही थी। इस बार पुलिस ने सिम्मी को नहीं बख्शा। थाना 11 पुलिस ने सिम्मी के खिलाफ मारपीट का केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

इसके बाद सिम्मी को एसडीएम सेंट्रल एडीसी पी एस शेरगिल के समक्ष पेश किया गया। सूत्रों के मुताबिक एडीसी पी एस शेरगिल के सामने ही सिम्मी गाली गलौच करने लगी और उत्पात मचाने लगी। इस पर एडीसी के आदेशों पर उसे बुडैल जेल भेज दिया गया। मंगलवार शाम सिम्मी को बुडैल जेल लाया गया। यहां आते ही तलाशी के दौरान पहले सिम्मी ने जेल स्टॉफ से भी गाली गलौच की। इसके बाद उसने जेल के गेट पर लगे केबिन का शीशा हाथ मारकर तोड़ दिया। इस दौरान सिम्मी के हाथ पर चोट लगी।

जेल स्टॉफ ने सिम्मी को सेक्टर 32 के सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया। बुधवार सुबह सिम्मी को दोबारा अस्पताल से जेल लाया गया। इस बार भी सिम्मी नहीं मानी और उसने दोबारा जेल में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। जेल स्टॉफ ने सिम्मी की मानसिक हालत खराब होते देख,उसे दोबारा सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया दिया। सिम्मी गुरदासपुर के एक हाईफाई परिवार से संबंध रखती है। उसके पिता की वहां के बड़े जमीदारों में है। सिम्मी का परिवार शहर पहुंच चुका है और वीरवार को वे सिम्मी की जमानत की याचिका दायर करेंगे। जबकि जेल में शीशा टूटने के संबंध में जेल प्रशासन ने सिम्मी की हरकत पर रपट दर्ज कर ली है।
 

prithvi.k

on off on off......
चंडीगढ़. शहर में लड़कों के बाद अब एक लड़की ने चंडीगढ पुलिस से लेकर जेल प्रशासन तक को परेशान कर रखा है। सिम्मी नाम की यह लड़की पिछले तीन दिनों से हर जगह विवाद कर रही है। राह चलती लडकियों को दबोचकर उनकी पिटाई करती है। कपड़े फाड़कर उन्हें बेइज्जत करती है। इसके बाद जब पुलिस इस लड़की को पकड़ती है,तो यह लड़की पुलिस को भी गाली गलौच करती है।
Chandigardh ki ladkhi simmi pichleh 3 dinnoh se rah chalti ladkhiyo ko daboch ker petai kerti hai,kapde phad deti hai,and when police catch her toh yeah ladkhi unneh bhi galli galoch deti hai..haiiin .. toofan mail lolzzzz..ladkhiyaa afaat ki putleya hundi ya :P
 
Top