जम्मू-कश्मीरः bsf कैंप नहीं, श्रीनगर एयरपोर्&#

जम्मू-कश्मीरः bsf कैंप नहीं, श्रीनगर एयरपोर्ट था आतंकियों का निशाना!

नई दिल्लीः श्रीनगर एयरपोर्ट के पास स्थित बीएसएफ कैंप पर मंगलवार सुबह हुए आतंकी हमले को लेकर नई बात सामने आई है. खबर है कि बीएसएफ की 182वीं बटालियन के मुख्यालय पर हमला करने वाले जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों का मकसद दरअसल एयरपोर्ट को निशाना बनाना था. इस हमले में बीएसएफ के सब-इंस्पेक्टर बीके यादव शहीद हो गए, जबकि तीन अन्य के घायल हो गए. भारतीय सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई में बीएसएफ कैंप में घुसे तीनों आतंकी मारे गए थे. सूत्रों का कहना है कि मंगलवार को मार गिराए गए तीनों आतंकी 11 सदस्यीय उस अफजल गुरु स्क्वॉड का हिस्सा थे, जिन्होंने दो गुटों में बंटकर 16-17 अगस्त की रात को भारत में घुसपैठ की थी.
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 7 सदस्यों के पहले आतंकी गुट ने पुंछ में एलओसी सीमा के जरिए घुसपैठ की थी. इसके बाद दूसरा गुट पाकिस्तानी पंजाब के नारोवाल इलाके से भारत के गुरदासपुर में दाखिल हुआ था. इसी अफजल गुरु स्क्वॉड के तीन आतंकियों ने पुलवामा में पुलिस लाइंस पर हमले को अंजाम दिया था, जिसमें 8 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे. पुलवामा अटैक के दौरान ड्यूटी पर तैनात रहे एक अधिकारी ने बताया कि आतंकियों ने पुलिस लाइंस की दीवार पर 'अफजल गुरु स्क्वॉड' लिख दिया था. एक सूत्र ने बताया कि उसी वक्त से बाकी आतंकी मिलिट्री, बीएसएफ, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस को निशाना बनाने के लिए घात लगाए बैठी थी.
http://zeenews.india.com/hindi/india/rajnath-singh-compliments-forces-for-foiling-terror-attack-in-jamu-and-kashmir/344463
अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक बीएसएफ कैंप पर हुए हमले का असली निशाना श्रीनगर एयरपोर्ट ही था. सूत्रों के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद के अफजल गुरु स्क्वॉड ने इसके लिए एयरपोर्ट की रेकी भी की थी. आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में श्रीनगर एयरपोर्ट को सबसे सुरक्षित सार्वजनिक स्थानों में से एक माना जाता है. श्रीनगर के सिविल एयरपोर्ट की सुरक्षा सीआरपीएफ के पास है, जबकि इस एयरपोर्ट के टेक्निकल एरिया और आउटर हिस्से की सुरक्षा की जिम्मेदारी बीएसएफ और एयरफोर्स को दी गई है. इसलिए आतंकी जब एयरपोर्ट की सुरक्षा में सेंध नहीं लगा सके तो उन्होंने बीएसएफ कैंप पर हमला कर दिया.

अखबार ने एक अधिकारी के हवाले से लिखा है कि ''जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने एयरपोर्ट की रेकी की थी और वे यहां बड़ा हमला करने की फिराक में थे ताकि अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान आकर्षित किया जा सके. लेकिन जब वह एयरपोर्ट की सुरक्षा में सेंध नहीं लगा सकें तो उन्होंने बीएसएफ कैंप पर ही हमला कर दिया." ऐसा बताया जा रहा है कि जैश-ए-मोहम्मद की अफजल गुरु स्क्वॉड के 5 आतंकी अब भी सक्रिय है और हमले को अंजाम दे सकते हैं. इसीलिए सभी सुरक्षा बलों के कैंपों को हाई अलर्ट पर रखा गया है.
 

ALONE

VIP
Re: जम्मू-कश्मीरः bsf कैंप नहीं, श्रीनगर एयरपोर&#238

Tfs....
 
Top