UNP

DOSTI

जरुरत नहीं पडती, दोस्त की तस्वीर की. देखो जो आईना तो दोस्त नज़र आते हैं, दोस्ती में.. येह तो बहाना है कि मिल नहीं पाये दोस्तों से आज.. दिल पे .....


Go Back   UNP > Poetry > Punjabi Poetry

UNP

Register

  Views: 641
Old 28-07-2008
Royal_Jatti
 
DOSTI

जरुरत नहीं पडती, दोस्त की तस्वीर की.
देखो जो आईना तो दोस्त नज़र आते हैं, दोस्ती में..

येह तो बहाना है कि मिल नहीं पाये दोस्तों से आज..
दिल पे हाथ रखते ही एहसास उनके हो जाते हैं, दोस्ती में..

नाम की तो जरूरत हई नहीं पडती इस रिश्ते मे कभी..
पूछे नाम अपना ओर, दोस्तॊं का बताते हैं, दोस्ती में..

कौन केहता है कि दोस्त हो सकते हैं जुदा कभी..
दूर रेह्कर भी दोस्त, बिल्कुल करीब नज़र आते हैं, दोस्ती में..

सिर्फ़ भ्रम हे कि दोस्त होते ह अलग-अलग..
दर्द हो इनको ओर, आंसू उनके आते हैं , दोस्ती में..

माना इश्क है खुदा, प्यार करने वालों के लिये “अभी“
पर हम तो अपना सिर झुकाते हैं, दोस्ती में..

ओर एक ही दवा है गम की दुनिया में क्युकि..
भूल के सारे गम, दोस्तों के साथ मुस्कुराते हैं, दोस्ती



 
Old 28-07-2008
THE GODFATHER
 
Re: DOSTI

tfs..navdeep

 
Old 28-07-2008
smilly
 
Re: DOSTI

nice one dear.....

 
Old 29-07-2008
saini2004
 
Re: DOSTI

tfs............

 
Old 29-07-2008
harrykool
 
Re: DOSTI

vadia g..............tfs..........

 
Old 22-01-2009
amanNBN
 
Re: DOSTI

nice....tfs...

 
Old 22-01-2009
Rajat
 
Re: DOSTI

nice...

 
Old 06-02-2009
jaggi633725
 
Re: DOSTI

nice.


Reply
« ਜੁਗਨੀ | Aitbar Nahin Karte »

Similar Threads for : DOSTI
220 HinDi SmS Collection!
Bolti Hai Dosti...
Kia khabar tum ko dosti kia hai
types of dosti??

Contact Us - DMCA - Privacy - Top
UNP