UNP

मैं

मैं हर किसी के लिए अपने आपको सही साबित नहीं कर सकता लेकिन जो मुझे जानते है..समझते है मैं उनके लिए बेहतरीन हूँ!.....


Go Back   UNP > Poetry > Punjabi Poetry > Hindi Poetry

UNP

Register

  Views: 2355
Old 11-10-2018
GöLdie $idhu
 
Red face मैं

मैं हर किसी के लिए अपने आपको सही साबित नहीं कर सकता लेकिन जो मुझे जानते है..समझते है मैं उनके लिए बेहतरीन हूँ!

 
Old 08-11-2018
DonSeenu
 
Re: मैं

shi hai bhai...


Reply
« Koi akhbaar thoda hai | *बड़े दिन हो गए* »

Similar Threads for : मैं
तू-तू मैं-मैं
मैं उसी का था, मैं उसी का हूँ
रो रहा बचपन मैं कैसे मुस्कराऊँ
निशानी हूँ मैं
चाह नहीं मैं सुरबाला के गहनों में गूथा जाऊ

Contact Us - DMCA - Privacy - Top
UNP