17 भारतीयों को मौत की सजा

Quick Register
User Name:
Human Verification

Go Back   UNP > Chit-Chat > News

UNP Register


Old 30-Mar-2010
17 भारतीयों को मौत की सजा

शारजाह की शरिया अदालत ने 17 भारतीयों को पिछले साल एक पाकिस्तानी व्यक्ति की हत्या करने और तीन अन्य को घायल करने के लिए मौत की सजा RegisterRegister

सुनाई है।

यूएई के अखबार खलीज़ टाइम्स में छपी खबर के अनुसार जस्टिस यूसुफ अल हमादी ने डीएनए जांच जैसे कई सबूतों के बाद 17 भारतीयों को मौत की सजा सुनाई। जांच में मिले सबूतों से साफ था कि दोषियों ने पाकिस्तानी व्यक्ति की चाकू मारकर हत्या की थी।

पुलिस ने बताया कि उस शख्स के शरीर पर चाकू से बार-बार हमला किया गया था और उसके दिमाग में भी चोट लगी थी, जिससे उसने दम तोड़ दिया। अखबार के मुताबिक पिछले साल जनवरी में यह हमला शारजाह के अल साज़ा इलाके में अवैध शराब के धंधे पर कब्जे को लेकर किया गया था।

पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने तीन अन्य पर भी जानलेवा हमला किया था, लेकिन उन्होंने कुवैती अस्पताल पहुंचकर अपनी जान बचाई। दोषी करार दिए गए सभी 17 से 30 साल के हैं।

इस जानलेवा हमले में जिंदा बचे तीन पाकिस्तानियों के अनुसार, पिछले साल हमले वाले दिन 50 लोगों ने उन पर चाकुओं से हमला किया था। इसके तुरंत बाद पुलिस मौका ए वारदात पर पहुंच गई थी। इस हमले के आरोपी 17 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया था। बाकी को सबूतों के अभाव में छोड़ दिया गया था। कोर्ट में सुनवाई के दौरान सभी ने इस हमले में हत्या करना स्वीकार किया। फरेंसिक और डीएनए जांच में भी उनकी इस मामले में मौजूदगी साबित हो गई थी।

Old 30-Mar-2010
Rowdy Roddy Piper
Re: 17 भारतीयों को मौत की सजा

No idea why foolish indian go to that sucking sick nations for work.

Old 31-Mar-2010
Re: 17 भारतीयों को मौत की सजा

^^ agree
these laws are very strict for indians.... but how many punishment they give when they treated poor workers from south asia like cattles....many poor muslim girl fron hyderabad sold to arabs with age of 80's.......
and wat about those small kids used in their camel race..wherz their laws now !

Old Arabs still come to Hyderabad to 'buy' muslim teenage girls for marriage
September 2005

HYDERABAD: "Arab Shiekh marries poor Indian girl", "Arab marries, and then ditches teenage Hyderabadi girl", "Arab Sheikhs marry young Indian girls and flee", "Parents marry off daughter to Arab for money" - The headlines aren't from decades old newspapers. But, before you start putting stress on your grey cells to find out in which era such inhuman acts happened, let's make clear that this is a 'harsh present day reality'.

One minor girl, many Arabs
Mohammed Wajihuddin
Muslim girls are paraded before Arabs who sometimes marry more than one for a night of orgy before getting the divorce from the very cleric who married them off. There are cases of a single girl being recycled this way to several Arabs.

They are old predators with new vigour. Often bearded, invariably in flowing robes and expensive turbans. The rich, middle-aged Arabs increasingly stalk the deprived streets of Hyderabad like medieval monarchs would stalk their harems in days that we wrongly think are history. These Viagra enabled Arabs are perpetrating a blatant crime under the veneer of nikaah, the Islamic rules of marriage. Misusing the sanctioned provision which allows a Muslim man to have four wives at a time, many old Arabs are not just marrying minors in Hyderabad, but marrying more than one minor in a single sitting.

bloody arabs

Post New Thread  Reply

« Sania-Shoaib Will Shift To Dubai | बब्बर खालसा चीफ को मिली उम्र कैद »